Connect with us

उत्तराखण्ड

किराये के मकान में चल रहा प्राथमिक अस्पताल पांच दिन से बंद

अल्मोड़ा। कनारीछीना प्राथमिक अस्पताल भवन का डेढ़ सौ रुपए किराया नहीं दिए जाने के कारण पांच दिन से बंद है। मकान मालिक बहादुर सिंह ने ताला जड़ दिया है। मरीजों की हालत व स्वास्थ्य बिभाग के कामकाज की उजह से कनारीछीना प्राथमिक अस्पताल के आयुर्वेदिक डॉक्टर आयुर्वेदिक फार्मासिस्ट व ऐलोपैथिक फार्मासिस्ट व वाड व्याय ने कनारीछीना एनमएम उपकेन्द्र में सेवाएं देना प्रारंभ कर दी। कनारीछीना प्राथमिक अस्पताल में दो आयुर्वेदिक व दो ऐलोपैथिक कर्मचारी अपनी ड्यूटी में तैनात हैं।

लेकिन स्वास्थ्य बिभाग की लापरवाही के कारण पांच दिन से कनारीछीना प्राथमिक अस्पताल का पुराना डेढ़ सौ किराये नहीं दिये जाने से बंद है। इधर एक साल से कनारीछीना भवन निर्माण कार्य बंद होने से। रीठागाडी दगड़ियों संघर्ष समिति के सदस्यों ने आक्रोशित होकर एक बैठक का आयोजन करके जल्द से जल्द कनारीछीना प्राथमिक अस्पताल का पुराना भवन का ताला खोलने की मांग की और कनारीछीना प्राथमिक अस्पताल का नया भवन के निर्माण कार्य शुरू करने के लिए शासन को अवगत कराया। रीठागाडी दगड़ियों संघर्ष समिति के सदस्यों ने कनारीछीना प्राथमिक अस्पताल के पुराने भवन के सामने धरना प्रदर्शन करके जल्द से जल्द पुराना भवन का ताला खोलने के लिए नया भवन निर्माण कार्य शुरू करने के लिए गुहार लगाई। अगर शासन प्रशासन ने जल्द से जल्द कनारीछीना पुराना भवन के ताला खोलने के लिए नया भवन निर्माण कार्य शुरू करने कारवाई नहीं की तो रीठागाडी दगड़ियों संघर्ष समिति धरना प्रदर्शन व चक्काजाम करने के लिए सड़कों पर उतरने के लिए बाध्य हो सकते हैं । पकंज पांडे, भरत जोशी, राजेन्द्र nप्रसाद,दयाल जोशी,दान सिंह, पार्वती देवी, गणेश सिंह, गिरीश सिंह,दीपक जोशी आदि मौजूद रहे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें -  गर्मी से मिलेगी राहत , बारिश होने की संभावना

More in उत्तराखण्ड

Trending News