सैलरी के पैसे भी भेजती थी मायके,पत्नी की फिजूलखर्ची से तंग पति ने कर दी हत्या

ख़बर शेयर करें

छत्तीसगढ़। पति-पत्नी में खर्च को लेकर अक्सर नोंकझोंक और घरेलू झगड़े होते रहते हैं लेकिन छत्तीसगढ़ में एक ऐसा मामला सामने आया है जहां पति ने पत्नी की हत्या कर दी। हत्या की वजह बनी पत्नी की फिजूलखर्ची जो कि वो मायके के लोगों पर खर्च करती थी। इसी बात से नाराज पति ने पत्नी की हत्या कर दी।

आरोपी पति का कहना है कि कई बार आवश्यकता पड़ने पर भी पत्नी मुझे ही पैसे नहीं दिया करती थी। इसे लेकर अक्सर पति-पत्नी के बीच विवाद हुआ करता था। रात को इसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ और पति ने पत्नी का सिर दीवार में दे मारा। यही नहीं उसने आवेश में आकर पत्नी का गला भी घोंट दिया जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई. अपना गुनाह छिपाने के लिए शव को कंबल में लपेटकर पति भाग निकला। पुलिस ने इस घटना के बाद फरार आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। हत्या की ये घटना यदुनाथ सिंह राठौर के घर में हुई।

छत्तीसगढ़ के कोरबा में हत्या की ये घटना कुसमुंडा पुलिस थाना क्षेत्र के हरदी बाजार चौकी इलाके के उतरदा गांव में हुई। यहां किराये पर रहने वाले धर्म सिंह ने अपनी पत्नी की हत्या कर दी और शव को और कंबल से ढंकने के बाद फरार हो गया। रुपयों के विवाद को लेकर इस घटना को अंजाम देने की बात सामने आई है। पुलिस ने 24 घंटे बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

आरोपी रेशम विभाग में पदस्थ धर्म सिंह सिद्धार्थ ने अपनी पत्नी रजनी सिंह की निर्मम हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि पति पत्नी की फिजूलखर्ची के साथ-साथ वेतन की राशि को मायके में भेजे जाने से नाराज था। मकान मालिक ने महिला को कई घंटों से नहीं देखे जाने की जानकारी उसके पुत्र हेमंत को दी जिसके द्वारा हरदी बाजार चौकी पुलिस को जानकारी दी गई।

यह भी पढ़ें -  बारातियों को लेकर लौट रही आल्टो कार नदी में गिरी, चार की मौत, तीन घायल

पुलिस टीम ने जांच पड़ताल करते हुए मौके से महिला का शव बरामद किया। पत्नी की हत्या करने के बाद आरोपी पति ने शव को छिपाने की नियत से कंबल में लपेट दिया था। इस घटना के बाद आरोपी धर्म सिंह को आईपीसी की धारा 302 के तहत गिरफ्तार कर लिया गया है।