Connect with us

उत्तराखण्ड

चीन सीमा पर टूटा हिमखंड, बॉर्डर एरिया को जोड़ने वाला बैली ब्रिज पर मंडराया खतरा

प्रदेश में जहां एक तरफ बीते एक हफ्ते से हो रही भारी बारिश से लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा तो वहीं दूसरी ओर चमोली से चीन सीमा पर हिमखंड के टूटने की खबर से हड़कंप मच गया है।


चमोली जिले में चीन सीमा से हिमखंड टूटने की खबर सामने आ रही है। मिली जानकारी के मुताबिक मलारी सुमना में चीन सीमा पर हिमखंड टूटने की घटना हुई है।

जिसके बाद लोगों में हड़कंप मच गया है। बताया जा रहा है कि भारत-चीन सीमा पर मलारी से सुमना रिमखिम मोटर मार्ग पर मलारी से दो किमी दूरी पर ये हिमखंड टूटने की घटना हुई है।

बॉर्डर एरिया को जोड़ने वाला बैली ब्रिज खतरे में
भारत-चीन सीमा पर हिमखंड टूटने के कारण बॉर्डर एरिया को जोड़ने वाला बैली ब्रिज खतरे में आ गया है। हिमखंड टूटने के कारण करीब तीन किलोमीटर का एरिया इसकी चपेट में आ गया है।

इसके साथ ही हिमखंड टूटने के कारण ग्रिर्थी गंगा ऊफान पर है। हिमखंड टूटने के कारण नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। नदियों का जलस्तर बढ़ने के कारण पुलों को खतरा हो सकता है।

चार जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी
मौसम विभाग के निदेशक विक्रम सिंह के अनुसार आज चार जिलों में मौसम खराब बना रहेगा। देहरादून, पौड़ी, टिहरी और हरिद्वार जनपद के लिए भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है।

इन जिलों में भारी बारिश के आसार हैं। इन जिलों में गर्जन के साथ-साथ आकाशीय बिजली चमकने की संभावना है। जबकि अन्य जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड में महसूस किए गए भूकंप के झटके, घर छोड़कर भागे लोग

More in उत्तराखण्ड

Trending News