Connect with us

उत्तराखण्ड

अतिक्रमण को लेकर व्यापारी हुए एक मंच में एकत्रित

रिपोर्टर- भुवन सिंह ठठोला

भीमताल। लोक निर्माण और वन विभाग की ओर से अतिक्रमण को लेकर भेजे गए नोटिस से व्यापारी खफा है। इससे परेशान व्यापारियों ने भीमताल के रामलीला मैदान में महापंचायत की महापंचायत में नैनीताल जिले की 25 इकाइयों और व्यापारियों ने प्रतिभा किया इस मौके पर आये व्यापारियों ने राज्य सरकार के खिलाफ नाराजगी जाहिर की उन्होंने आरोप लगाया कि उनकी भूमि होने के बावजूद भी जिला प्रशासन द्वारा लाल निशान कर उनके दुकान घरों को चिन्हित कर दिया गया है जिसका वह विरोध करते हैं उन्होंने कहा कि अगर किसी ने भूमि पर अतिक्रमण किया है तो उसको लीज के तहत दिया जा सकता है उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार अतिक्रमण के नाम पर लोगों को बेरोजगार कर रही है क्योंकि पहाड़ में रोजगार ना के बराबर है उन्होंने कहा कि सड़क चौड़ीकरण के नाम पर लोगों के घर तोड़े जा रहे हैं जबकि जहां भी पहाड़ी क्षेत्रों में बड़ी-बड़ी सड़क बनी है वह हमेशा भूस्खलन की चपेट में रही है और कभी भी सही नहीं हुई है विकास के नाम पर पहाड़ों के साथ सड़क चौड़ीकरण कर पर्यावरण के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है जो कि गलत है हाई कोर्ट द्वारा अतिक्रमण तोड़ने को लेकर जो बातें कही गई है उसमें राज्य सरकार अपना पक्ष नहीं रख रही है जिससे इन व्यापारियों में गहरा रोज व्याप्त है उन्होंने एक रणनीति बनाने के तहत आगे को उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है। इस महापंचायत में सामाजिक कार्यकर्ता वह कई दल के नेता भी शामिल हुए उन्होंने भी इन व्यापारियों के साथ देने की बात कही।

यह भी पढ़ें -  सीएम धामी ने कैप्टन समेत चार जवानों की शहादत पर दुख व्यक्त कर यह किया ट्वीट

More in उत्तराखण्ड

Trending News