Connect with us

उत्तराखण्ड

यहां एक ही स्कूल के भारी संख्या में बच्चों ने सैनिक स्कूल प्रतियोगिता परीक्षा की क्वालीफाई

बागेश्वर। उत्तराखंड के बागेश्वर जनपद अंतर्गत आदर्श प्राथमिक विद्यालय के बच्चों ने सफलता का इतिहास रचा है इस स्कूल के 22 बच्चों ने एक साथ सैनिक स्कूल में प्रवेश हेतु प्रतियोगिता परीक्षा क्वालीफाई करके सैनिक स्कूल घोड़ाखाल में प्रवेश हेतु अपना स्थान सुनिश्चित किया है।

भारतीय सेना में जाने का जूनून पहाड़ के युवाओं में कूट-कूटकर भरा रहता है। हमेशा देश सेवा के लिए तत्पर रहने वाले देवभूमि के युवाओं में बचपन से ही सेना के प्रति रूचि साबित करता है। बागेश्वर जनपद अंतर्गत कपकोट के बच्चों ने यह साबित कर दिखाया है। जिसके बाद पूरा देश उनकी तारीफ कर रहा है।

बड़े गौरव की बात यह है कि एक ही स्कूल के 22 बच्चों का चयन सैनिक स्कूल के प्रवेश परीक्षा में हुआ है।जी हां नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने छठी व 9वीं कक्षा में प्रवेश के लिए आवेदन मांगे थे। जिसका स्कोर कार्ड जारी कर दिया है। उत्तराखंड के बागेश्वर जिले में स्थित कपकोट आदर्श प्राथमिक विद्यालय के 22 बच्चों ने क्वालिफाई किया है। बता दें कि विगत आठ जनवरी 2023 ऑल इंडिया सैनिक स्कूल प्रवेश परीक्षा हुई थी।

एनटीए ने परीक्षा परीक्षा पास करने वाले छात्रों का स्कोर वेबसाइट पर डाला है। अब स्कूलवार मेरिट जारी होने के बाद काउंसिलिंग की तिथि जारी होगी। आदर्श राजकीय प्राथमिक स्कूल कपकोट के 22 छात्रों के चयन ने पूरे देशभर से वाहवाही लूटी है।

25 फरवरी 2022 को घोषित सैनिक स्कूल घोड़ाखाल के परिणाम में आदर्श राजकीय प्राथमिक विद्यालय कपकोट के 22 होनहार छात्रों ने सैनिक स्कूल के लिए प्रवेश हेतु प्रतियोगिता परीक्षा क्वालिफाई करके कक्षा 6 में सैनिक स्कूल घोड़ाखाल में प्रवेश हेतु अपना स्थान सुनिश्चित किया है।

यह भी पढ़ें -  आज साल का पहला सूर्यग्रहण, पढ़ें क्या होगा समय; आदित्य एल-1 के लिए भी होगा खास

महानिदेशक विद्यालय शिक्षा बंशीधर तिवारी द्वारा राजकीय आदर्श प्राथमिक विद्यालय कपकोट के सैनिक स्कूल घोड़ाखाल हेतु क्वालिफाइड इन 22 छात्रों को उनकी सफलता पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए विद्यालय के सभी अध्यापकों को बधाई देते हुए एवं सभी छात्रों को उनके सुनहरे भविष्य के लिए शुभकामनाएं प्रेषित की।

कहा है कि ऐसे विद्यालय और उनके अध्यापक पूरे प्रदेश की शिक्षा के लिए दर्पण की तरह चमकते हैं, साथ ही अनुकरणीय और प्रेरणा के स्रोत हैं। विद्यालय के शिक्षक ख्याली दत्त शर्मा ,सुश्री मंजू गढ़िया ,हरीश ऐठानी का इस सफलता के लिए विशेष योगदान रहा

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

More in उत्तराखण्ड

Trending News