ग्रामीणों ने वन विभाग के अधिकारियों को बनाया बंधक

ख़बर शेयर करें

रानीखेत। कुछ दिन पूर्व रानीखेत के ग्राम सिंगोली में तेंदुए द्वारा बुजुर्ग व्यक्ति पर हमला कर घायल कर दिया था। जिनका ईलाज आर्मी अस्पताल रानीखेत में चल रहा है। जिनकी हालत गंभीर बनी हुई है। घटना के पांच दिन गुजर जाने के बाद भी वन विभाग द्वारा तेंदुए को नहीं पकड़े जाने पर क्षेत्रीय जनता नाराज चल रही है। वहीं बुजुर्ग पर हमले का मामला तूल पकड़ने लगा है।

तेंदुए के नहीं पकड़े जाने पर आक्रोशित ग्रामीणों ने वन क्षेत्राधिकारी सहित वन विभाग की टीम को बंधक बना दिया। जिला पंचायत प्रतिनिधि हेमंत रौतेला ने कहा कि इस घटना से ग्रामीण जनता घबराए हुए हैं, और बच्चों का स्कूल जाना भी बंद हो गया है।

वहीं क्षेत्रीय जनता का कहना है कि जब तक सरकार तेंदुए को आदमखोर व मारने का निर्देश नहीं देंगी, तब तक हमारे द्वारा यह आन्दोलन चलता रहेगा। इसी बीच शासन की तरफ से नायब तहसीलदार ने मौके पर पहुंचकर आक्रोशित ग्रामीणों को बमुश्किल शांत कराया और वन क्षेत्राधिकारी सहित वन विभाग की टीम को ग्रामीणों से छुड़ाया।

जिला पंचायत प्रतिनिधि हेमंत रौतेला और क्षेत्रीय जनता ने मुख्यमंत्री को संयुक्त मजिस्ट्रेट रानीखेत के माध्यम से एक ज्ञापन नायव तहसीलदार को दिया।

Ad
Ad
Ad
Ad
यह भी पढ़ें -  कोतवाल को फसाने वाली हीना रावत चढ़ी पुलिस के हत्थे, संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज

Leave a Reply

Your email address will not be published.