Connect with us
Breaking news at Parvat Prerna

Uncategorized

अब तक 13 लोगों को घायल करने वाला गुलदार नहीं लगा वन विभाग के हाथ


स्थान – टनकपुर जिला चम्पावत
रिपोर्ट – विनोद पाल
एंकर / विजुअल – चंपावत राष्ट्रीय मार्ग पर वन विभाग की बूम रेंज क्षेत्र सुखीढांग मैं गुलदार का भय लगातार जारी बताते चलें कि विभाग की ओर से 1 अक्टूबर से 7 अक्टूबर तक मानव वन्य जीव संघर्ष रोकथाम जागरूकता कार्यक्रम चलाया जा रहा है इस दौरान गुलदार की दहशत के चलते आक्रोशित हो रहे ग्रामीणों के साथ एक गोष्ठी का आयोजन भी किया गया इस दौरान ग्रामीण वन विभाग की विफल कार्रवाई को लेकर नाराज दिखे ग्रामीणों के द्वारा बताया गया कि गुलदार को पकड़ने में वन विभाग की टीम पूरी तरह से विफल होती हुई नज़र आ रही हैं उनके द्वारा बताया गया की घातक गुलदार को अभी तक नहीं पकड़े जाने से ग्रामीणों में आक्रोश दहशत बढ़ती जा रही है क्योंकि और इस से स्कूली बच्चों की पढ़ाई लिखाई प्रभावित हो रही है जिस कारण स्कूल जाते वक्त बच्चों में और उनके परिजनों में दहशत बनी रहती हैं व अन्य लोगों को भी आवाजाही करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है व ग्रामीणों को डर के साय में जीना पड़ रहा है ग्रामीणों नें बताया हमारी ओर से वन विभाग की टीम को पूरा सहयोग किया जाएगा उन्होंने बताया की मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की यह विधानसभा है और वह अपने विधानसभा में हमेशा नजर बनाए रखते हैं तो उनसे हम ग्रामीण गुहार लगाते हैं कि वन विभाग को जल्द से जल्द गुलदार को पकड़ने के सख्त निर्देश जारी किए जाएं

वही गोष्ठी के दौरान विभागीय अधिकारियों ने ग्रामीणों से सहयोग करने की बात कही और आश्वासन दिया कि जल्द ही घातक गुलदार को पकड़ लिया जायेगा SDO नेहा चौधरी नें बताया गुलदार को पकड़ने के लिए चंपावत रेंज, बूम रेंज,और दोगाडी रेंज की तीनों टीम सर्च ऑपरेशन में लगातार लगी हुई है और गस्त को भी बढ़ा दिया गया है हमारे विभागीय अधिकारी और कर्मचारी गुलदार की लोकेशन ट्रैक करने में जुटे हुए हैं और बताया 25 सितंबर को गुलदार को ट्रॅकुलाइज करने की अनुमति मांगी गई थी जिसके अगले दिन ही अनुमति मिल गई थी जिस संबंध में हल्द्वानी रेंज सर्कल से डॉ आयुष भी लगातार प्रयासरत हैं कुछ दिन पहले गुलदार की लोकेशन मिलने पर गुलदार को डॉट लगाया गया था लेक़िन गुलदार चट्टानीय एरिया में चला गया जिस कारण हम उसे नहीं पकड़ पाए जिसके बाद काफी घंटों तक गुलदार को ढूंढ़ने का प्रयास भी किया गया जिसके बाद से वह दिखाई नहीं दिया गुलदार की लोकेशन लगातार सर्च की जा रही है और उसके साथ ही हमारे द्वारा तीन पिंजरे लगाए गए हैं जिनकी लोकेशन अब चेंज कर दी गई है SDO नेहा चौधरी नें बताया गुलदार अभी तक 12 से 13 लोगों पर हमला कर घायल कर चुका है जिस संबंध में सुरक्षा के मद्देनज़र बस्तियां बेरियल पर दुपहिया वाहन चालकों को रोक कर चार-पांच के ग्रुप में भेजा जा रहा है वहीं उन्होंने आश्वासन दिया कि जल्द ही गुलदार पकड़ लिया जाएगा
बाइट -1- आक्रोशित ग्रामीण
बाइट -2- नेहा चौधरी SDO वन विभाग

Ad
यह भी पढ़ें -  डमी ईवीएम के माध्यम से मतदाताओं ने डाला वोट

More in Uncategorized

Trending News