Connect with us

उत्तराखण्ड

अवैध फड़ो के संबंध में पालिका सभागार में फड़ व्यवसायो के साथ सीओ सिटी की मौजूदगी में टाउन वेंडिंग कमेटी की बैठक आयोजित

रिपोर्टर भुवन ठठोला नैनीताल

नैनीताल नगर के मेट्रोपोल क्षेत्र में ध्वस्तीकरण की कार्यवाही के बाद अब प्रशासन सख्त हो गया है जिसके चलते शहर में लगने वाले अवैध फड़ो के संबंध में पालिका सभागार में फड़ व्यवसायो के साथ सीओ सिटी की मौजूदगी में टाउन वेंडिंग कमेटी की बैठक आयोजित की गई।नैनीताल में सिओ विभा दिक्षित ने नगरपालिका सभागार में फड व्यावसायो के साथ बैठक ली बैठक में तय हुआ है। कि पालिका द्वारा पूर्व में जीन 121 लोगो लाइसेंस दिए गए हैं वही लोग पंत पार्क पर बैठेंगे इसके अलावा किसी को भी पंत पार्क में बैठने नहीं दिया जाएगा


बता दे कि बीते 22 जुलाई को हाईकोर्ट व जिला प्रशासन द्वारा मेट्रोपोल क्षेत्र में किये गए अतिक्रमण को ध्वस्त कर दिया गया था। जिसके बाद अब लगातार अतिक्रमण करने वालो पर प्रशासन सख्त हो गया है वही नगर के मल्लीताल पंतपार्क क्षेत्र मे भी कई फड़ व्यवसाई अतिक्रमण किये हुए है जिसको लेकर सीओ विभा दीक्षित व नगरपालिका प्रशासन द्वारा फड़ व्यवसाइयों के साथ बैठक की गई जिसमे पालिका ने रेहड़ी पटरी हॉकर्स के अध्यक्ष से पूछा कि पंत पार्क में आवंटित केवल 121 लोगों को फड़ लगाने को लेकर अनुमति है इसके बावजूद भी 500 से अधिक पर क्षेत्र में क्यों लगाए जा रहे हैं? उन्होंने सभी को चेतावनी दी है कि इसके बाद भी अगर आवंटित लोगों के अतिरिक्त क्षेत्र में फड़ लगाए गए तो प्रशासन उस पर सख्त कार्यवाही करेगा जिसके जिम्मेदार वह स्वयं होंगे।


पालिका अधिशासी अधिकरी आलोक उनियाल ने बताया कि स्ट्रीट वेंडर एक्ट 2014 के अंतर्गत गुरुवार को टाउंड वेंडिंग कमेटी की बैठक का आयोजन किया गया जिसमे फड़ व्यवसाइयों को होने वाले समस्याओ के बारे जानकारी ली साथ ही उन्हें बताया गया कि पूर्व में हाईकोर्ट द्वारा जो निर्देश दिए गए है उन्हें उसका सभी को पालन करना होगा कहा की पंतपार्क से गुरुद्वारे तक केवल 121 लोगो को फड़लगाने को लेजर पालिका से लाईसेंस आवंटित है इसके अतिरिक्त कोई भी क्षेत्र में फड़ फड़ लगाते हुए पाया गया तो उसके खिलाफ पालिका व पुलिस प्रशासन द्वारा कार्वाही की जाएगी।

यह भी पढ़ें -  कमिश्नर दीपक रावत ने एसडीएम कोर्ट व प्राधिकरण ऑफिस में मारा छापा, अधिकारियों में मचा हड़कंप

सिओ विभा दिक्षित, कोतवाल धर्मवीर सोलंकी, इओ आलोक उनियाल, व्यापार मंडल महासचिव त्रिभुवन फर्त्याल, फडअध्यक्ष जमीर अहमद, विजय कुमार, शिवराज नेगी, धर्मेश प्रसाद, आदि नगर पालिका कर्मचारी, मौजूद थे

More in उत्तराखण्ड

Trending News