कुमाऊं ज्वेलर्स के मालिक के बेटे पर बाइक सवार युवकों ने दागी गोलियां, मचा हड़कंप

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी। देर रात कुमाऊं ज्वैलर्स के स्वामी के बेटे पर बाइक सवार बदमाशों ने फायरिंग कर दी। इस दौरान अचानक हुए हमले में व्यापारी बाल-बाल बच गया। हमले के बाद बदमाश मौेके से फरार हो गये। सूचना पर पहुंची पुलिस की मौजूदगी में बदमाश फिर पहुंच गये और पुलिस को देख भागने लगे, पुलिस ने उनका पीछा किया लेकिन बदमाशों का पकड़ में नहीं सकी।जानकारी के अनुसार देर रात कुमाऊं ज्वैलर्स के स्वामी रामशरण वर्मा के बेटे राजीव वर्मा तिकोनिया के पास स्थित दुकान बंद कर करीब 10 बजे घर पहुंचे। जैसे ही उन्होंने घर के बाहर कार खड़ी की तो पीछे से बाइक सवार दो बदमाशों में से एक ने उन पर फायर झोंक दिया। इस दौरान वह वह बाल-बाल बच गए। कार का शीशा टूट गया। अचानक गोली की आवाज सुनकर घर के लोग बाहर निकले। राजीव को भीतर ले गए, इसके बाद पुलिस को घटना की जानकारी दी।

सूचना मिलते ही पुलिस अधिकारी टीम के साथ मौके पर पहुंच गए। तभी पुलिस के सामने ही राजीव के मोबाइल पर पहले व्हाट्सएप कॉल आई। कॉलर ने लॉरेंस बिश्नोई के नाम से धमकी दी। थोड़ी ही देर बाद ही एक दोबारा कॉल आई। इस बार कॉल करने वाला दूसरा व्यक्ति था। उसने हमलावर युवक का नाम लेते हुए कहा कि तू उसके पिता को परेशान करता है। बता मामले को कैसे निपटाना है। इस दौरान पुलिस अधिकारी और टीम घर पर ही मौजूद थी तभी एक बाइक पर सवार तीन युवक वहां से गुजरे। राजीव ने उन्हें पहचान लिया और शोर मचाया। राजीव के अनुसार इनमें से दो युवक वही थे जो पहले हमला करने आए थे। पुलिस ने बाइक का पीछा किया, लेकिन बदमाश पुलिस को चकमा देकर भागने में सफल रहे। वहीं पुलिस को पीछे आते देख बदमाश बाइक छोड़कर फरार हो गए। बाइक को कब्जे में लेकर इसकी जानकारी जुटाई जा रही है।

यह भी पढ़ें -  राष्ट्रीय स्तर पर शिक्षा विभाग किरकिरी, मंत्री जी ने बदलेंगे पूरा विभाग

व्यापारी के घर पर सुरक्षा बल तैनात कर दिया गया है। शहर में नाकाबंदी कर बदमाशों की तलाश की जा रही है। बताया जा रहा है कि सराफा कारोबारी राजीव वर्मा से बदमाश पहले भी रंगदारी की मांग कर चुके थे। दो दिन पहले राजीव ने आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट भी दर्ज कराई थी। राजीव के भाई को भी काशीपुर स्थित दुकान में जाकर धमकाने और रंगदारी मांगने की बात सामने आई है। बता दें कि दो दिन पहले ही काशीपुर में तीन व्यापारियों से लॉरेंस बिश्नोई के नाम से 50-50 लाख रुपये की रंगदारी की मांग के मामला सामने आया है। अब देर रात हल्द्वानी के बड़े सर्राफा कारोबारी पर कुमाऊं ज्वैलर्स के स्वामी रामशरण वर्मा के बेटे पर जानलेवा हमले की कोशिश की गई है। राजीव के छोटे भाई संजीव वर्मा का कहना है कि आरोपी मनोज अधिकारी ने कुछ दिन पहले उन्हें भी फोन करके कई बार धमकी दी और कभी एक करोड़ तो कभी 50 लाख रुपये की रंगदारी की मांग की। राजीव ने दो दिन पहले ही रिपोर्ट दर्ज कराई थी। फिलहाल पुलिस बदमाशों की तलाश में जुटी है।