Connect with us

Uncategorized

अयोध्या, काशी और मथुरा पर हो रहा है 48 हजार करोड़ का निवेश, 14 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार

लखनऊ: अयोध्या, काशी व मथुरा उत्तर प्रदेश में आस्था के साथ रोजगार के बड़े केंद्र बनेंगे। ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी (जीबीसी 4.0) के माध्यम से इन तीनों स्थानों पर 48 हजार करोड़ रुपये के निवेश का खाका खींचा जा चुका है। तीनों स्थलों पर स्थापित होने वाले बड़े पांच प्रोजेक्टों में ही 14 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा।

अयोध्या में 13,000 करोड़ के कुल 372 प्रोजेक्ट्स की शुरुआत होने जा रही है। इसमें रीयल एस्टेट के क्षेत्र में अभिनंदन लोढ़ा हाउस, पीकेएच वेंचर्स लिमिटेड का 500 कमरों के होटल का प्रोजेक्ट,पक्का लिमिटेड द्वारा पेपर मैन्युफैक्चरिंग यूनिट, द इनोवेटर्स डिजिटल एड्स प्राइवेट लिमिटेड, क्रेसकेंडो इंटीरियर्स का प्राइवेट इंडस्ट्रियल पार्क के प्रोजेक्टों में 1200 लोगों को रोजगार उपलब्ध मिलेगा।

इसी प्रकार वाराणसी में 19,250 करोड़ की निवेश राशि से 277 प्रोजेक्ट्स शुरू हो रहे हैं। इनमें बड़े पांच प्रोजेक्टों में भारत हैवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड (भेल), रोमा बिल्डर्स और प्रमोटर्स प्राइवेट लिमिटेड का फाइव स्टार रिजार्ट, गजाधर टेक्नोसिस एलएलपी हाउसिंग प्रोजेक्ट, अंश निर्माण प्राइवेट लिमिटेड, जेएस रेजिडेंसी प्राइवेट लिमिटेड के प्रोजेक्टों के जरिए 1,500 से ज्यादा लोगों को रोजगार प्राप्त होगा।

श्रीकृष्ण जन्मस्थली मथुरा में करीब 16,600 करोड़ रुपए से 415 प्रोजेक्ट्स की ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी संपन्न हुई है।

यहां के पांच बड़े प्रोजेक्टों में एयर लिक्विड नार्थ इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, द बेनिसन, केशव पब्लिकेशन प्राइवेट लिमिटेड, आईएफपी पेट्रो प्रोडक्ट, अवदी इंडस्ट्रीज प्राइवेट लिमिटेड के प्रोजेक्टों के जरिए 11,000 से अधिक लोगों को नौकरियां मिलने की संभावना है।

इसके अलावा चार अन्य बड़े धार्मिक केंद्रों प्रयागराज, चित्रकूट, नैमिषारण्य (सीतापुर) व बरेली में स्थापित होने वाले 77,312 करोड़ रुपए के 902 प्रोजेक्टों के जरिए भी 12,500 लोगों को रोजगार मिलेगा

Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड में आज भी बदला रहेगा मौसम का मिजाज, इन जिलों के लिए जारी किया बारिश का अलर्ट

More in Uncategorized

Trending News