Connect with us

Uncategorized

किशोर के आंख में घुसी लकड़ी,ऑपरेशन के गई रोशनी, परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन पर लगाए यह आरोप

रामनगर से एक बेहद दुखद खबर सामने आई है। यहां एक किशोर की आंख में लकड़ी का टुकड़ा घुस गया। जिसको उपचार के लिए परिजन अस्पताल लेकर आए जहां इलाज के दौरान उसकी एक आंख की रोशनी चली गई। जिस पर परिजनों ने अस्पताल पर आंख निकालने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। जिसको लेकर सीएमएस कार्यालय में भी तीखी नोक झोंक हुई।वहीं रामनगर अस्पताल के सीएमएस ने लिखित शिकायत मिलने पर मामले की जांच कराने की बात कही है।जानकारी के अनुसार रामनगर के गिहार बस्ती भवानीगंज क्षेत्र में निवासी सुनील कुमार गिहार के 11 वर्षीय पुत्र आयुष की बीते 19 मई को आई आंधी तूफान के दौरान आंख में लकड़ी का टुकड़ा घुस गया था। जिसको परिजन के लिए अस्पताल लेकर गए थे। जिसके बाद 20 मई को अस्पताल के नेत्र चिकित्सक डा. संयम ने बच्चे की आंख का ऑपरेशन किया। परिजनों ने आरोप लगाते हुए कहा कि ऑपरेशन से पहले बच्चे को जिस आंख में चोट लगी थी, उससे दिख रहा था। बच्चे की आंख के ऑपरेशन के बाद जब उन्होंने उसकी पट्टी खोली तो उसे आंख से कुछ भी नहीं दिखाई दिया। इसके बाद परिजन उसे एक रामनगर के निजी अस्पताल ले गए जहां डॉक्टरों ने बताया कि उसकी आंख की रोशनी जा चुकी है।जिस पर परिजनों ने डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

यह भी पढ़ें -  गणेश गोदियाल ने कांग्रेस एजेंटों को मतगणना पर कड़ी नजर रखने को कहा, बोले- एग्जिट पोल से मनोबल न टूटने दें कार्यकर्ता

More in Uncategorized

Trending News